श्री जैन सेवा संघ महिला विभाग द्वारा सावन की सैर संपन्न हुई : भावना मयूर पुरोहित. हैदराबाद.

ગુજરાત ધાર્મિક બિઝનેસ ભારત સમાચાર

શ્રી જૈન સેવા સંઘ મહિલા વિભાગ દ્વારા એક દિવસીય પર્યટન

સાવનની સૈર સંપન્ન થઈ:-

ભાવના મયૂર પુરોહિત હૈદરાબાદ.

श्री जैन सेवा संघ महिला विभाग रामकोट द्वारा सावन की सैर संपन्न हुई यह जानकारी

हमें हैदराबाद से भावना मयूर पुरोहित ने प्रदान की है।

मंगलवार दि. २६ जुलाई प्रातः को श्री जैन सेवा संघ महिला विभाग रामकोट द्वारा सावन की सैर किमती फार्म हाउस गंडीपेट का आयोजन हुआ। इसको सफल बनाने के लिए पूर्व तैयारीयां की गयी थी।

संस्था की कार्यकारीणी समिति ने पूर्व एक बैठक बुलाकर स्थान,

दिनांक,

शुल्क , नाश्ता भोजन एवं हाय टी ,

ड्रैसकोड आदि की चर्चा विचारना की गई थी। एक सूचना निकाल कर सभी को वोट्स एप के माध्यम से ज्ञात किया गया था। संस्था की सदस्याओं अपनी सखी सहेली को भी बुला सकती है । ड्रेस कोड लहेरिया था।

संस्था के मुख्य कार्यालय रामकोट श्री जैन सेवा संघ से बस प्रस्थान कर ने वाली थी।

सभी के नाम पहले ही लिखवाया गया था ताकि व्यवस्था

सुचारू रूप से बनी रहे।

सावन की सैर का पूर्व निर्धारित दिन आ गया। सभी बहनें

खुश मिजाज में थी और अच्छा बन ठन कर आयी थी। दो बसें निर्धारित की गई थी। दो बसों में लगभग 111 बहेनों ने सावन की सैर का प्रस्थान किया । सभी बहनों को बसों में बिठा कर नाश्ता कराया गया। नाश्ते में गरमागरम उपमा और चटनी दिया गया था

बस में हंसी मजाक और अंताक्षरी के खेल में कहा पूर्व निर्धारित स्थान किमती फार्म हाउस गंडीपेट में

पहुंचें। सबको बिठाने की व्यवस्था की गई। सभी को नवनिर्वाचित कार्यकारणी समिति का परिचय कराया गया।

प्रस्तुत है उपस्थित कार्यकारणी समिति की नामावली:-

अल्का चौधरी अध्यक्षा

सीमा शीलकुमार जैन उपाध्यक्षा

शर्मिला जैन पांड्या मंत्रिणी

कल्पना सुराणा , रिमा जैन सहमंत्रिणी

मीना मुथा कोषाध्यक्षा, प्रतिभा

बाकलीवाल सहकोषाध्यक्षा,

परामर्शदाता – अरुणा शाह

सोनाली शाह, सुचित्रा शेठ, सीमा सिंघी, सविता रायसोनी

फिर खेलों के दौर का श्री गणेश

हुआ। सर्व प्रथम ताश के पन्ने का तंबोला जैसा नंबर गेम खेलायी गई। उसमें विजेता को नगद राशि दी गई। अन्य खेलों में भी नगद राशि ही देने वाले थे किन्तु उनके नाम बाद में

घोषित करने वाले थे। खेल खेल ने से पहले कुर्सिया को हटायी गई, दिवार से नजदीक लगा दी गई ताकि दौड़ने वाले को कोई अवरोध न आये सर्व प्रथम पासींग न पीलो म्यूजिक के साथ हुई। उसमें संगीत के साथ दौड़ने वाले और कुर्सी पर बैठ ने वाले सभी ने आनंद उठाया।

उसमें सब से आखिरी में जो विजेता हुए उनके नाम लिखा गया। इसके बाद साड़ी वालें और ड्रेस वालें की जोड़ी बना ने वाला खेल था। यह खेल को ब्रेड – बटर का नाम दिया गया था। इसमें भी आखरी जोड़ी का नाम लिखा गया। अभी गोल गोल फिर ने का

तिसरा खेल शूरु होने वाला था। खेल

की शुरुआत में महिलाओं के गहने और नृत्य संबंधित एक्शन पहले से ही समझा दी गई थी । चिट्स पहले से ही तैयार किया गया था जिस एक्शन की चिट नीकले वह एक्शन करने वाले खेल से बाहर!!! यहां

एक अच्छी बात यह थी कि खेल से बाहर निकलने वालों को मेल्डी चोकलेट दी जाती थी ताकि वे

लोग दुखी न हो जाए!!! इस में भी

विजेताओं के नाम लिखे गए थे।

फिर दोपहरी भोजन का समय

आ गया। भोजन सात्विक जैनी था।

सभी ने भोजन में दाल बाटी का लुत्फ उठाया।

भोजन के बाद खेलों का दौर फिर से शुरू हुआ। एक तंबोला और एक थीम पर आधारित अंताक्षरी।

तंबोला और अंताक्षरी में नवीनतम प्रयोग किया गया था। कार्यक्रम में विभिन्न खेलों के विजेताओं के नाम घोषित किये गये थे।

सुंदर ड्रेसींग , एवं बेस्ट एक्टीव को भी पारितोषिक दिया गया था।

बीच बीच में मजेदार क्वीज पूछी जाती थी। सिनियर सीटीजन अबोव ८० में ८४ वर्ष के बा विजेता हुए थे।

देखते देखते जाने का वक्त हो गया। जाने से पहले सभी को

हाय टी नाश्ते के साथ दी गई थी।

रिमझिम बारिश में सभी ने निसर्ग का

आनंद उठाया था।

फिर थोड़ी देर सब आपस में मिले। धन्यवाद ज्ञापन किया गया।

जातें समय सभी को अपनी अपनी बस में ही जाना था।

५.३० को दोनों बसे किमती रिसोर्ट से रामकोट आने के लिए रवाना हुई।

यह कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु

कार्यकारी समिति ने काफी मेहनत की थी। सभी ने अपने अपने को दिये गये कामों को बखूबी निभाया था।

भावना मयूर पुरोहित हैदराबाद २७/७/२०२२.

TejGujarati